जिला अधिकारी को प्रार्थना पत्र DM Ko Application Kaise Likhe

DM Ko Application Kaise Likhe : दोस्तों आज हमने जिला अधिकारी को प्रार्थना पत्र कैसे लिखे इस बारे में बताया है। दोस्तों अक्सर कुछ ऐसी समस्याएं और शिकायत होती है जिनका उनसे संबंधित विभाग समाधान नहीं करते हैं तब हमें शिकायत यह समस्या लेकर जिला कलेक्टर के पास जाना पड़ता है।

लेकिन जिलाधिकारी को शिकायत है लिखित में देनी होती है उसके लिए प्रार्थना पत्र कैसे लिखें इस बारे में हमने उदाहरण देकर बताया है और साथ में कुछ  शिकायती और समस्या पत्र उदाहरण के तौर पर लिखे है ।

जिलाधिकारी पूरे जिले की समस्याएं सुनते हैं वे सभी विभागों से ऊपर होते हैं उनके आदेश पर सभी कार्य हो सकते हैं इसलिए परेशान जनता सीधे उनसे भी अपनी समस्या बता सकते हैं और  जल्द से जल्द समाधान की अपेक्षा कर सकते है ।

DM Ko Application Kaise Likhe
DM Ko Application Kaise Likhe hindi me

DM Ko Application Kaise Likhe in Hindi


सेवा में,

श्रीमान उपायुक्त महोदय,

जयपुर, राजस्थान ( जिले का नाम)

विषय – जिला की समस्याएं हेतु ( समस्या)

महोदय,

सविनय  निवेदन है कि मेरा नाम _________________(अपना नाम लिखें) है । मैं जयपुर के चाकुस (अपने गांव/ शहर नाम लिखें) गांव का रहने वाला हूं.  मैं आपका ध्यान इस समस्या/शिकायत की ओर आकृष्ट करना चाहता हूं.  _____________________________________(अपनी जो भी समस्या शिकायत हो वह लिखें)

अतः श्रीमान से आग्रह अनुरोध है कि उपरोक्त समस्याओं/ शिकायत की ओर शीघ्रातिशीघ्र ध्यान देकर राहत  पहुंचाएं आपकी अति कृपा होगी ।

धन्यवाद

दिनांक :- 01 Jan 20….

आपका विश्वासी

विकास कुमार( अपना नाम लिखें)

पता ( अपना पूरा पता लिखें)

दूरभाष नं. ( अपना मोबाइल नं. या टेलीफोन नं. लिखें)

Jila Adhikari ko Patra in Hindi


सेवा में

श्रीमान जिलाधिकारी महोदय

विषय – जिला की समस्याएं

महाशय,

सविनय श्रीमान का ध्यान जिले की समस्याओं की और आकृष्ट करना चाहता हूं. वैसे तो जिले में अनेक समस्याएं हैं किंतु शिक्षा, पेयजल, विद्युत, सड़क की समस्याएं अहम है ।

जिला में प्राथमिक विद्यालयों की संख्या जनसंख्या के अनुपात में बहुत कम है जो है भी वह भी दूर स्थानों पर स्थित है दो-तीन किलोमीटर पैदल चलकर पहुंचा जा सकता है ।

 पेयजल की भी भीषण समस्या है अधिकांश सरकारी चापाकल बेकार पड़े है सरकारी नल की व्यवस्था है गांव में नहीं है जहां है वहां बिजली के अभाव में पानी आता ही नहीं इन सब से जिला वासियों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है ।

 बिजली की आंख मिचौली जारी रहती है विशेषकर शाम और रात्रि में बिजली नहीं रहने से विद्यार्थियों की पढ़ाई बाधित होती रहती है और रात्रि में चोरों के लिए खुला साम्राज्य बन जाता है इससे जल समस्या भी खड़ी हो जाती है ।

 सड़क की हालत ऐसी है कि बिना जूता-चप्पल खोलें कहीं भी पैदल जाना मुश्किल है वाहन चलने वाली सड़कों की हालत भी कम बुरी नहीं है आए दिन कोई न कोई दुर्घटना होती रहती है ।

 अतः श्रीमान से आग्रह अनुरोध है कि उपरोक्त समस्याओं की ओर शीघ्रातिशीघ्र ध्यान देकर जिला वासियों को राहत पहुंचा कर यस लाभ अर्जित करें  ।

आपका विश्वासी

जिला कलेक्टर को जिले में बढ़ रहे अपराधों पर अंकुश लगाने हेतु प्रार्थना पत्र लिखें


सेवा में

श्रीमान जिलाधिकारी महोदय

जयपुर, राजस्थान

विषय – अपराधों पर अंकुश लगाने हेतु 

महोदय,

सविनय निवेदन है कि मेरा नाम विजय कुमार है  मैं आपके जिले के छोटे से गांव विकासपुरा का रहने वाला हूं । मैं एक समाज सेवक हूं आज मैं आपको हमारे गांव में बढ़ रहे अपराधों के बारे में सूचित करना चाहता हूं ।

श्रीमान गत 3 माह से हमारे गांव में अपराधों का ग्राफ बढ़ता ही जा रहा है हर दिन चोरी चकारी, लूटमार हो रही है लेकिन पुलिस  प्रशासन इस ओर ध्यान नहीं दे रहा है ।

इस कारण ग्राम वासियों में काफी रोष है,  काफी गरीब लोगों की जीवन भर की कमाई लूट ली गई है और कई लोगों को धमकियां देकर परेशान किया जा रहा हैं।

अतः श्रीमान से निवेदन है कि पुलिस प्रशासन को अपराधों पर अंकुश लगाने हेतु सख्त निर्देश दें ताकि जल्द से जल्द गांव के लोगों को राहत मिल सके ।

धन्यवाद

आपका विश्वासी

 विजय कुमार

 विकास पूरा,  जिला, जयपुर

 मोबाइल नं. 0000000000

जिलाधिकारी को एप्लीकेशन/ प्रार्थना पत्र लिखते समय ध्यान रखने योग्य बातें –

(1) अपना पूरा नाम पता और मोबाइल नंबर अवश्य लिखें ।

(2) प्रार्थना पत्र में विषय जरूर लिखें ताकि जिलाधिकारी तुरंत आपकी समस्या को समझ सके ।

(3) जिस विभाग या व्यक्ति के बारे में आप शिकायत कर रहे हैं उसकी पूरी जानकारी प्रार्थना पत्र में अवश्य लिखें ।

(4) ऐसी कोई शिकायत है जिसके साथ प्रमाण की आवश्यकता हो तो प्रार्थना पत्र के साथ वह प्रमाण सलंग्न करना ना भूलें ।

(5) एप्लीकेशन लिखने के बाद एक बार पुनः पढ़ ले क्योंकि प्रार्थना पत्र में अनावश्यक त्रुटि नहीं होनी चाहिए।

(6) जब भी आप प्रार्थना पत्र में शिकायत लिखे तो स्पष्ट और कम शब्दों में लिखने का प्रयास करें ।

यह भी पढ़ें –


फीस माफी के लिए प्रधानाचार्य को पत्र – Fees Maafi ke Liye Prathna Patra

4+ Formal Letter in Hindi to Principal – प्रधानाचार्य को औपचारिक प्रार्थना पत्र

Application for tc in english

छुट्टी के लिए एप्लीकेशन – Chutti ke Liye Application in Hindi

5+ सूचना लेखन – Suchna Lekhan in Hindi

Application in Hindi for Leave – अवकाश लेने हेतु प्राथना पत्र

हम आशा करते है कि हमारे द्वारा DM Ko Application Kaise Likhe आपको पसंद आये होगे। अगर यह नारे आपको पसंद आया है तो अपने दोस्तों और परिवार वालों के साथ शेयर करना ना भूले। इसके बारे में अगर आपका कोई सवाल या सुझाव हो तो हमें कमेंट करके जरूर बताएं।

अपना सुझाव और कमेन्ट यहाँ लिखे

You have to agree to the comment policy.