डिजिटल इंडिया पर निबंध – Digital India Essay in Hindi

Digital India Essay in Hindi : दोस्तों आज हमने डिजिटल इंडिया पर निबंध कक्षा 1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9, 10, 11 & 12 के विद्यार्थियों के लिए लिखा है. इस निबंध की सहायता से सभी विद्यार्थी परीक्षाओं में निबंध लिख सकते है.

Digital India भारत सरकार द्वारा चालू की गई प्रमुख योजनाओं में से एक है इस योजना का उद्देश्य है कि प्रत्येक ग्राम को हाई स्पीड इंटरनेट से जोड़कर सरकारी सुविधाएं प्रत्येक गांव तक पहुंचाई जाए

Digital India Essay In Hindi

Get Some Essay on Digital India in Hindi for class 1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9, 10, 11 & 12 Students

Best Digital India Essay in Hindi 100 Words


डिजिटल इंडिया भारत सरकार द्वारा चलाई गई एक सुनहरी पहल है सके अंतर्गत भारत की ग्रामीण इलाकों को ब्रॉडबैंड इंटरनेट से जोड़ा जाएगा और मूलभूत सरकारी सेवाएं ऑनलाइन उपलब्ध करवाई जाएंगी.

इस प्रगतिशील योजना का शुभारंभ 1 जुलाई 2015 को माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने किया था. हमारे देश की आधी से ज्यादा आबादी है गांव में निवास करती है इसलिए वहां के लोगों तक इंटरनेट की पहुंच नहीं थी लेकिन इस योजना के तहत 2.5 लाख ग्रामीण इलाकों तक हाई स्पीड इंटरनेट पहुंचाया जाएगा.

इस योजना के अंतर्गत सरकारी मूलभूत सुविधाएं जैसे डिजिटल लॉकर, ई-मित्र, छात्रवृत्ति, ई-शिक्षा, पेंशन, राशन, ई-हस्ताक्षर, पैन कार्ड, वोटर आईडी इत्यादि सुविधाएं अब ऑनलाइन कर दी गई है.

Digital India Essay in Hindi 250 Words


डिजिटल इंडिया योजना हमारे भारत देश के लिए जागरूकता, रोजगार और देश के विकास में वृद्धि लाने के लिए सहायक सिद्ध होगी. इस योजना का क्रियान्वयन भारत सरकार द्वारा 1 जुलाई 2015 को किया गया था. यह योजना सही प्रकार से लागू हो इसलिए प्रधानमंत्री अध्यक्षता में इस योजना को आगे बढ़ाया जायेगा.

इस योजना में 2.5 लाख ग्राम पंचायतों को इंटरनेट से जोड़ा जाएगा साथ ही सभी सरकारी विभागों को ऑनलाइन जोड़ा जायेगा. इस योजना का मुख्य उदेश्य – डिजिटल आधारभूत ढाँचे का निर्माण करना, डिजिटल साक्षरता, डिजिटल रूप से सरकारी सेवाएं उपलब्ध करवाना.

Digital India योजना से सभी मंत्रालय एक साथ जोड़े जाएंगे तथा सभी विभाग अपनी मूलभूत सुविधाएं जनता तक पहुंच जाएंगे जैसे – स्वास्थ्य सेवाएं, बैंकिंग सेवाएं, शिक्षा, पेंशन, छात्रवृत्ति, गैस सिलेंडर, पानी और बिजली का बिल, न्यायिक सेवा जैसी मूलभूत सुविधाएं जनता तक डिजिटल तरीके से पहुंचाई जाएंगी.

इस योजना को क्रियान्वित करने के लिए एक लाख करोड़ रुपए की लागत का अनुमान लगाया गया है इस योजना की पूरी तरह से क्रियान्वित होने के बाद सभी लोगों को हाई स्पीड इंटरनेट की सुविधा मिलेगी, आईटी क्षेत्र में रोजगार के नए अवसर पैदा होंगे, ई क्रांति आएगी, सभी को फोन की सुविधा उपलब्ध होगी, समय पर सभी सूचनाएं मिलेगी, ई-शासन किया जा सकेगा.

इस योजना के तहत अब तक डिजिटल लॉकर, मेरी सरकार वेबसाइट, ई-शिक्षा, छात्रवृत्ति, पेंशन, राशन कार्ड, पैन कार्ड आधार कार्ड, ई-बीमा, ई-स्वास्थ्य जैसी सुविधाएं उपलब्ध करवाई जा चुकी है. 2019 तक डिजिटल इंडिया योजना को पूरी तरह से कार्यान्वित करने का लक्ष्य रखा गया है.

Digital India Essay in Hindi 500 Words for Students


रूपरेखा –

डिजिटल इंडिया की महत्वाकांक्षी योजना है जिसको भारत सरकार द्वारा क्रियान्वित किया गया है इसका मूल उद्देश्य भारत के प्रत्येक गांव तक इंटरनेट पहुंचाया जाए और इंटरनेट के सहारे सरकारी योजनाओं एवं सरकारी सूचनाओं का लाभ पहुंचाया जाना है.

इस योजना को सही ढंग से क्रियान्वित करने के लिए प्रधानमंत्री जी की अध्यक्षता वाली कमेटी में चलाया जाएगा. यह योजना 1 जुलाई 2015 को प्रारंभ की गई थी और 2019 तक इसे पूरी तरह से क्रियान्वित करने का लक्ष्य रखा गया है.

डिजिटल इंडिया के उद्देश्य –

(1) 2.5 लाख ग्राम पंचायतों तक हाई स्पीड ब्रॉडबैंड पहुंचाना.
(2) इंटरनेट से प्रत्येक भारतीय नागरिक को जोड़ना.
(3) ई-क्रांति लाना जिससे सभी कार्य सुलभ तरीके से हो.
(4) ई-शासन
(5) सभी को सूचनाओं एवं सरकारी योजनाओं का लाभ सुनिश्चित करना.
(6) इलेक्ट्रानिक मैन्युफैक्चरिंग को बढ़ावा देना.
(7) आईटी रोजगार के अवसर पैदा करना.
(8) भविष्य में आने वाली सभी सरकारी योजनाओं का लाभ सीधे तौर पर नागरिकों को पहुंचाना.
(9) सभी को फोन की सुविधा उपलब्ध करवाना.

डिजिटल इंडिया के लाभ –

(1) इस योजना के तहत सभी ग्रामीण इलाकों में कंप्यूटर शिक्षा को अनिवार्य कर दिया जाएगा जिससे वहां के विद्यार्थियों को इंटरनेट की उत्तम शिक्षा मिल सके.

(2) इस प्रोग्राम के तहत छात्रवृत्ति के फॉर्म ऑनलाइन भरे जाएंगे साथ ही बैंक के माध्यम से सीधे विद्यार्थियों के खातों में छात्रवृत्ति दी जाएगी.

(3) ई-बस्ता, ई-लॉकर जैसी सुविधा मिलेगी जिसमें सभी डाटा सुरक्षित रहेंगे.

(4) इसके तहत सरकारी बसों, रेलवे स्टेशन, पुलिस स्टेशन, अस्पताल और कार्यालयों में सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे.

(5) 2.5 लाख गांवों में ब्रॉडबैंड और यूनिवर्सल फोन की सुविधा उपलब्ध करवाई जाएगी.

(6) 2.5 लाख स्कूलों, सभी यूनिवर्सिटीज में वाई-फाई की सुविधा फ्री में उपलब्ध करवाई जाएगी.

(7) 1.7 करोड़ लोगों हो आईटी नौकरियां मिलेंगी और अप्रत्यक्ष रूप से 8.5 करोड़ लोगों इस योजना से रोजगार मिलेगा.

(8) पूरे भारत में ई-गवर्नेंस.

(9) इस योजना के तहत ड्राइविंग लाइसेंस आधार कार्ड वोटर आईडी मार्कशीट, पैन कार्ड इत्यादि जरूरी दस्तावेज को ऑनलाइन रखने की सुविधा प्रदान की जाएगी जिससे इन्हें प्रत्येक स्थान पर ले जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी और इनके खो जाने काम है भय नहीं रहेगा.

(10) इस योजना से देश में कॉल सेंटर और बीपीओ की संख्या में बढ़ोतरी होगी जिससे रोजगार के नए अवसर मिलेंगे.

(11) ग्रामीण इलाकों के युवाओं को भी इंटरनेट की जानकारी होने से यूट्यूब, ब्लॉगिंग, इंटरनेट मार्केटिंग इत्यादि पर अपनी सेवाएँ देकर रोजगार के नए अवसर क्रियान्वित कर रहे है.

(12) देश के प्रत्येक नागरिक तक फोन की सुविधा उपलब्ध होगी.

निष्कर्ष –

हमारे भारत देश में अशिक्षा और गरीबी है जिसको हटाया जाना बहुत जरूरी है इसके लिए अगर अन्य किसी माध्यम से यह कार्य किया जाएगा तो बहुत समय लग जाएगा. डिजिटल इंडिया योजना भारत को इन सभी
कुरूतियो से उभार सकती है.

यह योजना भारत के पिछड़े इलाकों के लिए अमृत के समान कार्य करेगी और एक नया भारत बनाने में सहयोग करेगी. यह योजना समय पर पूरी तरह से लागू हो जाती है तो भारत को विकासशील से विकसित देश होने में अधिक समय नहीं लगेगा.

Digital India Essay in Hindi 1400 Words


प्रस्तावना –

डिजिटल इंडिया योजना भारत में क्रांतिकारी बदलाव लेकर आने वाली है भारत सरकार की ओर से प्रारंभ की गई इस योजना का मुख्य उद्देश्य यही है कि सभी कार्य अब कंप्यूटर पर ऑनलाइन किए जाएं.

इसका मुख्य उद्देश्य है ग्रामीण इलाकों तक हाई स्पीड इंटरनेट पहुंचाना था कि ग्रामीण इलाकों के लोग भी शहरों से जुड़ सके. इस योजना में महत्वपूर्ण रोल गवर्नमेंट कंपनी बीएसएनल का है जिसको भारत के कोने कोने तक ब्रॉडबैंड लाइन का विस्तार करना है.

डिजिटल इंडिया क्या है –

डिजिटल इंडिया जैसा इसके नाम से ही पता लगता है कि अब पेन और कागज छोड़ने का समय आ गया है हमें अभी टेक्नॉलॉजी से हाथ मिलाना होगा. इसी दिशा में सोच कर हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने डिजिटल इंडिया की योजना बनाई है जिसमें सभी सरकारी एवं प्राइवेट विभागों को ऑनलाइन करना है.

Digital India का शुभारंभ 1 जुलाई 2015 को भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के कर कमलों द्वारा हुआ है इस योजना के अंतर्गत 2019 सभी गांव में इंटरनेट की सुविधा उपलब्ध कराना एवं ग्रामीण इलाके के लोगों को इंटरनेट की जानकारी देना और उन्हें डिजिटल इंडिया अभियान से जोड़ना है. इस योजना के तहत 250,000 ग्राम पंचायतों इंटरनेट से जोड़ा जाएगा.

डिजिटल इंडिया के उद्देश्य –

(1) प्रत्येक गांव तक ब्रॉडबैंड पहुंचाना –

डिजिटल इंडिया का प्रमुख उद्देश्य है कि भारत के प्रत्येक ग्राम, ढाणी, शहर तक हाई स्पीड इंटरनेट पहुंचाना और उसकी सहायता से सरकारी योजनाओं एवं अन्य सेवाओं का लाभ सभी ग्रामीण इलाकों के लोगों तक पहुंचाना है.

(2) आईटी रोजगार –

डिजिटल इंडिया योजना से ग्रामीण इलाकों में भी सरकारी योजनाओं के कार्य ऑनलाइन होंगे इसलिए वहां पर नए-नए आईटी रोजगार पैदा होंगे जिनसे ग्रामीण इलाकों के विद्यार्थियों को भी रोजगार मिलेगा. जैसे राजस्थान में ई-मित्र की सेवा से कई लोगों को रोजगार मिला है.

(3) जागरूकता लाना –

ग्रामीण इलाकों तक इंटरनेट की पहुंच होने से वहां के लोग भी दुनिया में चल रही गतिविधियों पर नजर रख पाएंगे प्रतिदिन की नई ताजा खबर पढ़ पाएंगे और वे जिस विषय में नहीं जानती हैं उसकी जानकारी घर बैठे ले पाएंगे जिससे उन में जागरुकता आएगी और वह किसी भ्रम और ठगी के शिकार नहीं होंगे.

(4) सबको फोन की सुविधा उपलब्ध कराना –

आज भी कई पिछड़े हुए ग्रामीण इलाकों तक फोन की सुविधा उपलब्ध नहीं हो पाई है डिजिटल इंडिया के तहत उन सभी ग्रामीण इलाकों तक फोन की सुविधा पहुंचाई जाएगी ताकि वहां के लोग भी भारी दुनिया से कनेक्ट हो पाए.

(5) डिजिटल करेंसी को बढ़ावा देना –

ग्रामीण इलाकों तक हाई स्पीड इंटरनेट को बढ़ावा मिलेगा क्योंकि वहां के लोग भी फिर स्मार्टफोन और कंप्यूटर का उपयोग करेंगे जिससे उन्हें डिजिटल करेंसी का पता लगेगा और इससे और अधिक डिजिटल करेंसी को बढ़ावा मिलेगा.

डिजिटल इंडिया के लाभ –

(1) भ्रष्टाचार में कमी आएगी –

फोन लाभ ग्रामीण इलाकों के लोगों को मिलेगा क्योंकि वहां के लोग अक्सर भ्रष्टाचार के शिकार रहते है. सभी कार्य डिजिटल इंडिया के तहत ऑनलाइन हो जाने के बाद भुगतान लेना देना और अन्य सरकारी कार्य भी ऑनलाइन हो जाएंगे जिससे कोई भी अधिकारी भ्रष्टाचार नहीं कर पाएगा.

(2) कालाबाजारी कम होगी –

सभी सरकारी एवं प्राइवेट कार्य ऑनलाइन हो जाने के कारण घूसखोरी और कालाबाजारी में कमी आएगी क्योंकि इससे डिजिटल प्रक्रिया से भुगतान होगा जिससे किसी भी प्रकार की भोजपुरी या काला बाजार करना संभव नहीं होगा.

(3) ग्रामीण विद्यार्थियों को शिक्षा –

इंटरनेट की पहुंच ग्रामीण इलाकों तक होने से ग्रामीण इलाकों के विद्यार्थियों को भी कंप्यूटर शिक्षा सीखने को मिलेगी और वह भी इंटरनेट के बारे में जानकारी ले पाएंगे.

साथ ही इंटरनेट से उन्हें नहीं-नहीं शिक्षा सामग्री देखने और सुनने को मिलेगी जो कि उनके भविष्य को और भी प्रखर बनाएगी. इससे ग्रामीण विद्यार्थियों को शहरों में जाकर शिक्षा नहीं लेनी पड़ेगी वे गांव में रहकर भी उच्च अध्ययन कर पाएंगे.

(4) सरकारी विभागों में लाइनों से छुटकारा –

अक्सर सरकारी विभागों में काम बहुत धीरे-धीरे होता है जिसके कारण ग्रामीण इलाकों के लोग लाइन में लगे रहते है इससे उनका कार्य तो बाधित होता ही है साथ ही उनका रोजगार भी बाधित होता है.

ऑनलाइन प्रक्रिया होने के बाद सभी सरकारी मूलभूत सुविधाएं बिल जमा कराना पैन कार्ड बनवाना राशन कार्ड बनवाना इत्यादि के लिए सरकारी कार्यालयों की लाइन में नहीं लगना पड़ेगा.

(5) देश का विकास तेजी से होगा –

भारत गांव का देश है इसलिए यहां के ज्यादातर लोग ग्रामीण इलाकों में निवास करते हैं वहां पर अगर हाई स्पीड इंटरनेट पहुंचता है तो वहां के लोग भी शहरों से जुड़ जाएंगे और सभी कार्य तेजी से होंगे जिससे देश के विकास में दिन दुगनी रात चौगुना विकास होगा.

(6) ग्रामीण लोग ठगी के शिकार नहीं होंगे –

अक्सर गांव के लोगों को किसी वस्तु का मूल्य अधिक बताकर ठग लिया जाता है इसलिए हर गांव तक इंटरनेट की पहुंच होने से वहां के लोग भी हर वस्तु के मूल्य का और क्वालिटी का पता लगा पाएंगे जिससे उन्हें कोई घटिया और नकली वस्तु नहीं भेज पाएगा और वे ठगी के शिकार होने से बच जाएंगे.

(7) बैंकिंग सुविधाओं का लाभ मिलेगा –

आज भी ग्रामीण इलाकों के लोगों को बैंकों में पैसा जमा करने और निकालने और अन्य बैंकिंग कार्यों के लिए बैंकों की लंबी लंबी कतार में खड़ा होना पड़ता है. डिजिटल इंडिया से गांव तक इंटरनेट की पहुंच होनी से वहां के लोग भी ऑनलाइन बैंकिंग सुविधाओं का लाभ उठा पाएंगे.

(8) सरकारी योजनाओं का सीधा लाभ मिलेगा –

अक्सर बड़ी बड़ी सरकारी योजनाओं में घोटाले होते रहते हैं जिसके कारण ग्रामीण इलाकों तक सरकारी योजनाओं का लाभ पहुंच ही नहीं पाता है सरकारी योजनाओं का नाम तक ग्रामीण इलाके के लोगों को पता नहीं होता है,

जो कि बहुत ही गंभीर विषय है. डिजिटल इंडिया से सभी योजनाओं को जोड़ा जाएगा और उसका सीधा फायदा ग्रामीण इलाकों के लोगों तक पहुंचाया जाएगा ताकि बीच में किसी भी प्रकार का घोटाला नहीं हो पाए. अब ग्रामीण इलाके के लोगों को भी पेंशन, राशन और अन्य सेवाओं की जानकारी ऑनलाइन मिल जाएगी.

डिजिटल इंडिया की मुख्य सेवाएं –

डिजिटल इंडिया की मुख्य सेवाओं का विस्तार करने के लिए भारत सरकार ने इस योजना को आधार कार्ड से जोड़ने की प्रक्रिया पर जोर दिया है आधार कार्ड से सभी भारतीय नागरिकों के डाटा लिंक करने के बाद सभी सरकारी एवं गैर सरकारी सुविधाओं का लाभ सभी लोग घर बैठे उठा पाएंगे.

इस योजना के तहत राशन कार्ड, पैन कार्ड, निर्वाचन कार्ड, जीवन बीमा, गैस सिलेंडर, ड्राइविंग लाइसेंस की शादी के लिए ऑनलाइन आवेदन किया जा सकता है. पहले ही सभी योजनाओं का लाभ उठाने के लिए महीनों तक सरकारी विभागों के चक्कर काटने पड़ते थे लेकिन अब यह काम आप घर बैठे कर सकते है.

डिजिटल इंडिया के तहत सभी सरकारी कार्यों को सुगम एवं सुलभ बना दिया गया है अब आप घर बैठे बैंकिंग सुविधाओं का लाभ उठा सकते हैं किसी को भी कहीं पर भी ऑनलाइन भुगतान कर सकते है. ऑनलाइन वेबसाइट उसे खरीदारी कर सकते हैं और घर बैठे सामान आ सकते है.

डिजिटल इंडिया के तहत ही सरकार ने डीजी लॉकर की सुविधा भी उपलब्ध कराई हैं जिसमें आप अपने सभी सरकारी दस्तावेज रख सकते हैं जैसे ड्राइविंग लाइसेंस, पैन कार्ड, आधार कार्ड, वोटर आईडी इत्यादि ताकि इनको साथ रखने के झंझट से छुटकारा मिल सके और इनके खोने का भी भय नहीं रहेगा.

डिजिटल इंडिया के तहत किए जाने वाले कार्य –

इस योजना के तहत ढाई लाख ग्राम पंचायतों को 2019 तक हाई स्पीड इंटरनेट से जोड़ा जाएगा. इस योजना में अभी तक एक लाख करोड़ का खर्च हो चुका है. इसके तहत 400000 इंटरनेट पॉइंट बनाए जाएंगे जहां से कोई भी व्यक्ति इंटरनेट का इस्तेमाल कर पाएगा.

2.4 लाख स्कूलों और विश्वविद्यालयों में फ्री वाईफाई की सुविधाएं दी जाएंगी जिससे विद्यार्थियों को ऑनलाइन कार्य करने में किसी प्रकार की दिक्कत नहीं हो. इस योजना के तहत 1.7 लाख लोगों को रोजगार के अवसर प्रदान करने का लक्ष्य रखा गया है.

और 8.5 लाख लोगों को इससे अप्रत्यक्ष प्रकार से रोजगार मिलेगा साथ ही सभी सरकारी कार्यालयों और ग्राम पंचायतों को इंटरनेट से जोड़ा जाएगा और यहां पर होने वाले सभी कार्य ऑनलाइन किए जाएंगे.

उपसंहार –

हमारे भारत देश के लिए डिजिटल इंडिया जैसी योजनाओं की बहुत जरूरत है क्योंकि पिछड़े हुए हैं क्षेत्रों को अगर उभारना है तो वहां पर शिक्षा और इंटरनेट का पहुंचना बहुत जरूरी है तभी जाकर वहां के लोग भारत के विकास में भागीदार बन सकेंगे.

डिजिटल इंडिया ने मूलभूत सरकारी सुविधाओं को भारतीय नागरिकों के लिए सुलभ बना दिया है. इससे अधिक लाभ ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों को मिलेगा. यह योजना भारत को डिजिटल करने में अहम भूमिका निभाएगी.


यह भी पढ़ें –

मोबाइल फोन पर निबंध – Essay on Mobile Phone in Hindi

गर्मी की छुट्टी पर निबंध – Summer Vacation Essay in Hindi

कंप्यूटर पर निबंध – Essay on Computer in Hindi

इंटरनेट पर निबंध – Essay on Internet in Hindi

समाचार पत्र पर निबंध – Essay on Newspaper in Hindi

हम आशा करते है कि हमारे द्वारा Digital India Essay in Hindi पर लिखा गया निबंध आपको पसंद आया होगा। अगर यह लेख आपको पसंद आया है तो अपने दोस्तों और परिवार वालों के साथ शेयर करना ना भूले। इसके बारे में अगर आपका कोई सवाल या सुझाव हो तो हमें कमेंट करके जरूर बताएं।


2 Comments

अपना सुझाव और कमेन्ट यहाँ लिखे

You have to agree to the comment policy.