दि‍वाली पर कविता – Best Poem on Diwali in Hindi

Poem on Diwali in Hindi दोस्तों आज हम आपके साथ दि‍वाली पर लिखी गई सर्वश्रेष्ठ कविताएं शेयर करने जा रहे है. Diwali त्यौहार पर कविता बहुत ही अच्छे लेखकों द्वारा लिखी गई है. दीपावली सभी कक्षा और कॉलेज के विद्यार्थियों के लिए कविता लिखने में सहायक होंगी.

दिवाली हिंदुओं का प्रमुख त्यौहार है दिवाली इसलिए मनाई जाती है क्योंकि इस दिन भगवान श्री राम 14 वर्ष का वनवास काटकर अयोध्या लौटे थे और इस खुशी में अयोध्या वासियों ने उनके स्वागत में दीपक जलाए थे और फूलों की वर्षा की थी.

इन कविताओं के माध्यम से हमने दिवाली का त्यौहार वर्णन किया है. हम ने कविताएं सरल शब्दों में लिखने का प्रयास किया है जिससे छोटे बड़े सभी व्यक्ति इन कविताओं को आसानी से समझ पाए और आप सभी को दि‍वाली की शुभकामनाएंदिवाली पर हमने निबंध भी लिखा है आप इसे भी पढ़ सकते हैं

Poem on Diwali in Hindi

Top 6 Poem on Diwali in Hindi


(1) Diwali Ka Tyohaar Aaya Poem in Hindi

दीपावली का त्योहार आया,
साथ में खुशियों की बहार लाया।

दीपको की सजी है कतार,
जगमगा रहा है पूरा संसार।

अंधकार पर प्रकाश की विजय लाया,
दीपावली का त्योहार आया।

सुख-समृद्धि की बहार लाया,
भाईचारे का संदेश लाया।

बाजारों में रौनक छाई,
दीपावली का त्योहार आया।

किसानों के मुंह पर खुशी की लाली आयी,
सबके घर फिर से लौट आई खुशियों की रौनक।

दीपावली का त्यौहार आया,
साथ में खुशियों की बहार लाया।

यह भी पढ़ें – दिवाली पर निबंध – Essay on Diwali in Hindi

– नरेंद्र वर्मा 


(2) Dekho Dekho Dipawali Ka Tyohaar Aaya Poem in Hindi

हो रहा है नई ऋतु का आगमन
मौसम में घुल रही है गुलाबी ठंडक,
देखो देखो दीपावली का पावन अवसर आया।

मां लक्ष्मी सबके घर पधार रही है
लेकर सुख समृद्धि और खुशियों की माला,
देखो देखो दीपावली का पावन अवसर आया।

बच्चे बूढ़े सभी कर रहे हंसी ठिठोली
चारों और खुशियों की लहर फैल रही है,
देखो देखो दीपावली का पावन अवसर आया।

चहु और खुशियों के दीपक की लो जल रही है
चारों ओर ढोल पतासे पटाखे फूट रहे है,
देखो देखो दीपावली का पावन अवसर आया।

बाजारों की उदासी हो गई है गुल
सब लोग खरीद रहे है नए वस्त्र व आभूषण,
देखो देखो दीपावली का पावन अवसर आया।

बुराई पर अच्छाई की जीत हुई है
श्री राम अयोध्या को लौट रहे है,
देखो देखो दीपावली का पावन अवसर आया।

बच्चों की आंखों में एक अलग चमक है
मिठाइयां खा कर सब लोग झूम रहे है,
देखो देखो दीपावली का पावन अवसर आया।

– नरेंद्र वर्मा

यह भी पढ़ें – दिवाली पर स्लोगन – Slogan on Diwali in Hindi


(3) Poem on Diwali in Hindi

खेतों ने ओढ़ ली है धानी चादर
भूमि पुत्र भी मंद मंद मुस्का रहा है,
दीपावली का शुभ दिन आ रहा है।

मौसम भी करवट बदल रहा है
सर्द ऋतु का आगाज हो रहा है,
दीपावली का शुभ दिन आ रहा है।

चंचल मन हर्षा रहा है
दीपों का त्यौहार आ रहा है,
दीपावली का शुभ दिन आ रहा है।

सब लोग मंगल गीत गा रहे है
ढोल पतासे और घंटियां बजा रहे है,
दीपावली का शुभ दिन आ रहा है।

प्रकृति हो रही है भाव विभोर
चहु खुशियों की लहर उठ रही है,
दीपावली का शुभ दिन आ रहा है।

सब मिलजुल कर घर से जा रहे है
मां लक्ष्मी भी कृपा बरसा रही है,
दीपावली का शुभ दिन आ रहा है।

– नरेंद्र वर्मा


(4) Aao Sab Milkar Diwali Manaye Hindi Kavita on Diwali

आओ मिलकर दीप जलाएं
रिश्तो की एक नई प्रीत जगाए,
आओ सब मिलकर दीपावली मनाएं।

आओ मिलकर दीप जलाएं
कर दो ऐसे जग सारा रोशन,
कहीं छूट न जाए कोई कोना अंधियारा।

भूल कर सब द्वेष भावना
दोस्ती का नया दीप जलाएं,
आओ सब मिलकर दीपावली मनाएं।

आओ सब मिलकर रूठो को मनाएं
मिठाईयां बांटकर प्यार की मिठास बढ़ाएं,
आओ सब मिलकर दीपावली मनाएं।

धनतेरस पर सब मिलकर बाजार जाए
भाई दूज को भाई बहन का प्यार बढ़ाएं,
आओ सब मिलकर दीपावली मनाएं।

आओ सब मिलकर उजियारे का दीप जलाएं
अपने मन से क्रोध और इर्ष्या का भूत भगाए,
आओ सब मिलकर दीपावली मनाएं।

आओ सब मिलकर घर-घर जाए
लेकर बड़ों का प्यार और आशीर्वाद,
आओ सब मिलकर दीपावली मनाएं।

– नरेंद्र वर्मा


(5) Barsh Rahi Ma Lakshmi ki Kripya Hindi Poem on Diwali

बरस रही है मां लक्ष्मी की कृपा,
हो रही है सुख और समृद्धि की वर्षा।

मिट जाएगा हर कोने का अंधियारा,
जब दीपो से जगमग होगा जग सारा।

भगवान श्री राम अयोध्या पधार रहे है,
फूलों की वर्षा हो रही है।

सब जन हर्षा रहे है,
हो गया है सब दुखों का नाश।

सब लोग मंगल गान गा रहे है,
फूल, पत्ती, पेड़-पौधे, फसलें लहरा रहे है।

सब लोगों के मुख पर मुस्कान है,
यही तो दीपावली त्योहार की पहचान है।

– नरेंद्र वर्मा


(6) Aaj Din Diwali Ka Aaya Poem in Hindi

आज दिन दिवाली का आया
लेकर खुशियों की टोकरी,
महालक्ष्मी सब के घर पधार रही है।

आज दिन दिवाली का आया
आज की काली रात भी हैरान है,
दीपों की रोशनी से पूरा संसार रोशन है।

आज दिन दिवाली का आया
रिद्धि सिद्धि को भी संग में लाया,
भर गया है घर खुशियों से सबका।

आज दिन दिवाली का आया
संग में खुशियों का मेला लेकर आया,
पटाखों की गूंज से पूरा आसमान गूंज उठा।

आज दिन दिवाली का आया
मिठाइयों की मिठास रिश्तो में घुल रही है,
सभी के गिले-शिकवे आज दूर हो रहे है।

आज दिन दिवाली का आया
हो रहे है सब भाव विभोर,
आज दिन खुशियों का आया।

आज दिन दिवाली का आया
दीपों की सुनहरी कतार सजेगी,
आज सभी के घर दीपावली मनेगी।

– नरेंद्र वर्मा


यह भी पढ़ें –

कृष्ण जन्माष्टमी कविता – Krishna Janmashtami Kavita

दिवाली पर स्लोगन – Slogan on Diwali in Hindi

माँ पर 10 हिन्दी कविता | Sad Poem on Maa in Hindi

Sister Poem in Hindi

दिवाली त्यौहार की आप सभी को बहुत-बहुत शुभकामनाएं इस दिवाली पर आप किसी गरीब की सहायता करके दीपावली मनाए फिर देखिए आपको कितनी खुशी मिलती है दिवाली मनाने में, खुश रहिए और खूब धूमधाम से दिवाली मनाइए.

दोस्तों Poem on Diwali in Hindi आपको कैसी लगी, अगर अच्छी लगी हो तो अपने दोस्तों और परिवार वालों के साथ शेयर करना ना भूलें और अगर आपका कोई सवाल है चाहो तो हमें कमेंट करके बताएं।

अपना सुझाव और कमेन्ट यहाँ लिखे

You have to agree to the comment policy.