5+ Letter to Friend in Hindi – अपने मित्र को पत्र लिखे

Letter to Friend in Hindi : दोस्तों आज हमने अपने दोस्त को पत्र लिखे है। अक्सर अपने दोस्त को जन्मदिन की बधाई/ स्वास्थ्य की जानकारी/ निमंत्रण / बधाई संदेश और अन्य बातें करने के लिए पत्र लिखना होता है।

लेकिन हमें पत्र लिखने की सही जानकारी नहीं होती है जिसके कारण हम अपने मित्र से बातचीत नहीं कर पाते है। और विद्यालय में भी परीक्षाओं में मित्र को पत्र लिखने को दिया जाता है।

इसी बात को ध्यान में रखते हुए हमने विभिन्न प्रकार के पत्रों को लिखा है। अगर आपको हमारे द्वारा लिखे गए तथा अच्छे लगे तो अपने दोस्तों के साथ शेयर करना ना भूले।

Letter to Friend in Hindi

New Letter to Friend in Hindi for Class 6,7,8,9,10,11,12 students.

मित्र को जन्मदिवस पर बधाई देने के लिए पत्र – Letter to your friend wishing him Birthday in Hindi


27, प्रताप नगर,
आगरा (3 प्र०)

दिनांक : 11.05.20…..

मित्रवर दीपक,

सप्रेम नमस्ते ।

जन्मदिवस के उपलक्ष्य में कल ही मुझे तुम्हारा निमंत्रण-पत्र प्राप्त हुआ। तुम्हारा जन्मदिवस हम सबके लिए भी अत्यंत हर्ष का दिन है। मेरी हार्दिक इच्छा थी कि मैं इस शुभ अवसर पर अवश्य पहुँचूँ।

परंतु मेरी परीक्षाएँ अत्यंत निकट होने के कारण मैं स्वयं को असमर्थ पा रहा हूँ। मुझे उम्मीद है मेरी विवशता को ध्यान में रखते हुए मुझे क्षमा करोगे ।

तुम्हारे जन्मदिवस के शुभ अवसर पर मेरी ओर से हार्दिक बधाई व समस्त मंगलकामनाएँ। मेरी ईश्वर से यही प्रार्थना है कि जीवन में वह सब कुछ तुम्हें प्राप्त हो जिसकी तुम कामना करते हो ।

पुन: जन्मदिवस की समस्त शुभकामनाओं के साथ,

तुम्हारा अभिन्‍न मित्र

विनोद   

परीक्षा में अच्छे अंक पाने पर मित्र को बधाई को बधाई पत्र।


5, होर्न बाई रोड,
मुंबई ।

5 अप्रैल, 20…..

प्रिय अनिल,

इस वर्ष तुम्हारे परीक्षा का परिणाम जानकर अत्यन्त प्रसन्नता हुई। तुम प्रथम श्रेणी में उत्तीर्ण हुये हो एवं कक्षा में अच्छे स्थान पर भी आये हो। मैं तुम्हारा इस सफलता पर तुम्हें बधाई देता हूँ।

मेरे परिवार के सभी सदस्य तुम्हारे इस परिणाम से अत्यन्त प्रसन्‍न है। अंकल एवं आण्टी को मेरा सादर प्रणाम। मीना को प्यार। तुमसे शीघ्र ही उत्तर की कामना करूंगा।

तुम्हारा प्रिय
(रमेश) 

गर्मी की छुदिटयों में मित्र को अपने गाँव/शहर आने के लिए


5/215
देव कॉलोनी, निर्माण नगर,
विकास पुर (राजस्थान)।

प्रिय कपिल,

कल ही तुम्हारा पत्र मिला। समाचार ज्ञात हुआ कि तुम्हारा ग्रीष्मावकाश आरंभ हो गया है। इस बार के ग्रीष्मावकाश में मेरा मन कर रहा है हम दोनों मिलकर छुट्टियों का आनंद उठाये।

मेरा विचार यह है कि क्यों न तुम इस बार मेरे गाँव में आकर गर्मी की छुट्टियाँ व्यतीत करो। तुम तो जानते ही हो कि हमारे गाँव एक पर्यटन स्थल यहाँ पर देखने लायक हवेली है और साथ ही यहाँ गर्मियों में प्रतिवर्ष हमारे ईस्ट देवता रामदेव जी का मेला लगता है।

उनका यहाँ बड़ा ही भव्य एवं प्राचीन मंदिर है। यहाँ पर लोग दूर दूर से दर्शन करने आते है। हम यहाँ पर मन्दिर में सेवा कर के बहुत आनंद उठाते है।

यदि तुम कुछ दिनों के लिए ही सही, यहाँ आ सको तो मुझे अपार खुशी होगी। मेरे माता-पिता भी यही इच्छा रखते हैं। मैं तुम्हारे उत्तर की प्रतीक्षा करूँगा।

तुम्हारा प्रिय मित्र

विजय कुमार  

मित्र को नौकरी मिलने पर बधाई-पत्र।


दिनांक : 10.03.20…..

आशा निवास, चेती चौराहा,
काशीपुर, उत्तरांचल

प्रिय सुनील,

कल ही तुम्हारा पत्र प्राप्त हुआ। यह जानकर हार्दिक प्रसन्‍नता हुई कि राज्य प्रशासन सेवा के तुम्हारे सफल प्रशिक्षण के पश्चात्‌ तुम्हारी पहली तैनाती हरिद्वार हुई है। यह निःसंदेह ही तुम्हारे अथक परिश्रम का फल है।

तुमने यह सिद्ध कर दिखाया है, कि मेहनत का फल सदैव मीठा होता है। अत: इस शुभ अवसर पर तुम्हें मेरी व मेरे माता- पिता ओर से हार्दिक बधाई।

तुम्हारा मित्र

सोनू सोलंकी

मित्र को अपनी बहन के विवाह पर निमन्त्रित करे


डी ब्लॉक-20, कुंती नगर,
नई दिल्‍ली।

मार्च 10, 20…..

प्रिय रवि,

तुम्हें यह सूचित करते हुये मुझे बहुत प्रसन्‍नता हो रही है कि मेरी बहन का विवाह 24 मार्च, 20।।। को होना निश्चित हुआ है। लड़के वाले जयपुर में रहते है। बारात उनके गाँव बसी से बस द्वारा आयेगी। दूल्हा इनकम टैक्स विभाग में अकाउंटेंट के पद पर कार्यरत है।

मेरा तुमसे अनुरोध है कि इस अवसर पर तुम अपने पुरे परिवार के साथ अवश्य पहुँचना। तुम विवाह से चार दिन पूर्व ही मेरे घर आ जाना ताकि विवाह समारोह की व्यवस्था को हम दोनों मिल के अच्छे से कर सके। तुम कब तक आओगे इस विषय में मुझे पूर्व सूचना अवश्य देना।

मुझे उम्मीद है कि तुम मेरी बहन की शादी में जरुर आओगे। आण्टी अंकल को मेरा प्रणाम कहना।

तुम्हारा अभिन्न मित्र

अमित         

व्यायाम का महत्व बताते हुए अपने मित्र को पत्र लिखिए


सी स्कीम, अरविन्द कॉलोनी,
मसूदाबाद

मार्च 10, 20…

प्रिय दीपक,

तुम्हारा पत्र पढ़कर मुझे बहुत दुख हुआ कि इन दिनों तुम्हारा स्वास्थ्य खराब है। मित्र! अपने स्वास्थ्य का ख्याल रखो। वो कहावत तो तुमने सुनी ही होगी-“एक तंदरूस्ती, हज़ार नियामत ” या “ हैल्थ इज़ वैल्थ ”।

स्वस्थ रहने के लिए तुम प्रतिदिन व्यायात किया करो और सुबह जल्दी उठकर पार्क या बगीचे आदि में टहलने जाया करो, क्योंकि प्रातःकालीन व्यायाम हमें ताजगी देता है और हमारे तन-मन को चुस्ती-फुर्ती से भर देता है।

इस प्रकार व्यायाम हमारे जीवन में बहुत ही उपयोगी है। यदि तुम प्रतिदिन एक घण्टा व्यायाम पर लगाओगे तो अपने स्वास्थ्य में तुम्हें शीघ्र ही लाभ दिखाई देगा।

तुम्हारे पत्र के उत्तर की प्रतीक्षा में,

तुम्हारा मित्र,

सोरभ गुप्ता

यह भी पढ़ें –


Anopcharik Patra in Hindi – अनौपचारिक पत्र लेखन

Application for a Teaching Job in Hindi – नौकरी के लिए आवेदन पत्र

All Bank Application in Hindi – बैंक के सभी प्रार्थना-पत्र

Application in Hindi for Leave – अवकाश लेने हेतु प्राथना पत्र

हम आशा करते है कि हमारे द्वारा Letter to Friend in Hindi आपको पसंद आये होगे। अगर यह नारे आपको पसंद आया है तो अपने दोस्तों और परिवार वालों के साथ शेयर करना ना भूले। इसके बारे में अगर आपका कोई सवाल या सुझाव हो तो हमें कमेंट करके जरूर बताएं।



अपना सुझाव और कमेन्ट यहाँ लिखे

You have to agree to the comment policy.