नदी शब्द रूप Nadi Shabd Roop

Nadi Shabd Roop : दोस्तों आज हमने नदी शब्द के रूप लिखे है। संस्कृत भाषा में वाक्य निर्माण के लिए शब्दों के रूप बनाने पड़ते है. फिर इन्हीं शब्दों के हिसाब से वाक्य को पूर्ण किया जाता है।

नदी शब्द रूप: नदी भूमि पर बहने वाली एक जलधारा है जो कि कहीं पर विशाल तो कहीं पर छोटी नजर आती हैं यह हिमालय,  झरनों, वर्षा जल, झील इत्यादि से इसका उद्गम होता है

कुछ ईकारान्त स्त्रीलिंग संज्ञा शब्दों के रूप नदी के समान होते हैं, किन्तु प्रथमा विभक्ति के एकवचन में उनका रूप विसर्गान्त होता है। जैसे – तन्त्रीः (वीणा के तार), तरीः (नौका), लक्ष्मीः (शोभा, सम्पत्ति) अवीः (रजस्वला स्त्री) आदि।

Nadi Shabd Roop in Sanskrit

विभक्तिएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथमानदीनद्यौनद्यः
द्वितीयानदीम्नद्यौनदीः
तृतीयानद्यानदीभ्याम्नदीभिः
चतुर्थीनद्यैनदीभ्याम्नदीभ्यः
पञ्चमीनद्याःनदीभ्याम्नदीभ्यः
षष्ठीनद्याःनद्योःनदीनाम्
सप्तमीनद्याम्नद्योःनदीषु
सम्बोधनहे नदि!हे नद्यौ !हे नद्यः!
Nadi Shabd Roop

नदी शब्द रूप के विशेष- इसी प्रकार काली, गौरी, लेखनी, कौमुदी, युवती, कुमारी, देवी, पत्नी, जननी, दासी, धात्री, लक्ष्मी, वाणी, राज्ञी, गौरी, सखी, नारी आदि शब्दों के रूप चलते है।

यह भी पढ़ें –


लता शब्द के रूप – Lata Shabd Roop

युष्मद् शब्द रूप Yushmad Shabd Roop

अस्मद् शब्द रूप Asmad Shabd Roop

बालक शब्द रूप Balak Shabd Roop

संस्कृत में गिनती – Sanskrit Ginti 1 to 100

हम आशा करते है कि हमारे द्वारा Nadi Shabd Roop आपको पसंद आये होगे। अगर यह शब्द के रूप आपको पसंद आया है तो अपने दोस्तों और परिवार वालों के साथ शेयर करना ना भूले। इसके बारे में अगर आपका कोई सवाल या सुझाव हो तो हमें कमेंट करके जरूर बताएं।

अपना सुझाव और कमेन्ट यहाँ लिखे

You have to agree to the comment policy.